राजनीति

रमन सिंह की पत्रकार वार्ता पर कांग्रेस का जवाब, रमन ब्लैक कैट कमांडो से घिरे रहते थे भूपेश जनता से

भूपेश और रमन के दौरे में फर्क

AINS RAIPUR… मुख्यमंत्री के दौरे पर रमन सिंह का बयान भाजपा की बौखलाहट को प्रदर्शित कर रहा है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भूपेश और रमन के दौरे में फर्क, रमन ब्लैक कैट कमांडो से घिरे रहते थे भूपेश जनता से। रमन सिंह विकास यात्रा निकालते थे, विकास यात्रा के नाम पर अपने वैभव का प्रदर्शन करना और किसान, युवा, महिलाओं, स्कूली बच्चों के ऊपर लाठीचार्ज करवाते थे, दहशत फैलाकर सरकार के कुनीतियों के खिलाफ उठ रही आवाज को कुचलना ही उनका मुख्य उद्देश्य रहता था। भूपेश बघेल योजनाओं की समीक्षा कर रहे, जनसामान्य से मिल रहे, जनप्रतिनिधियों से मिल रहे है, कर्मचारियों, अधिकारियों से मिल कर समस्याओं की जानकारी एकत्रित कर रहे। रमन सिंह तो 15 साल तक जनता से दूर रहे ब्लैक कैट कमांडो के घेरे में उनसे परिंदा भी नहीं मिल सकता था। आज भी मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद उनसे आम आदमी से दूर भाजपा का कार्यकर्ता भी नहीं मिल पाते है। भूपेश बघेल से बच्चे, बुजुर्ग, आम आदमी, कार्यकर्ता सभी मिल रहे है। सभी की समस्या का निदान कर रहे सरकारी योजनाओं की समीक्षा कर रहे है। रमन राज में सरकारी दफ्तरों में काम करने की संस्कृति समाप्त हो गयी थी, भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ में जवाबदेह सरकार चला रहे।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि सरकार की सफलता असफलता का फैसला सुनाने वाले रमन सिंह कौन होते हैं? यह अधिकार जनता को है। भूपेश सरकार की योजनाएं जनता के जीवन स्तर में बदलाव ला रही। जनता में सरकार की लोकप्रियता लगातार बढ़ रही है। 2018 में सरकार बनने के बाद कांग्रेस ने 4 उपचुनाव जीता, नगरीय निकाय चुनाव के दो चरणों में कांग्रेस जीती, पंचायत चुनाव में भी जनता ने कांग्रेस के प्रत्याशियों को जिताया। यह हार भाजपा के साथ रमन सिंह की भी व्यक्तिगत हार है। हर चुनाव में रमन सिंह स्वयं को भाजपा के चेहरे के रूप में प्रस्तुत किये और जनता ने उन्हें बार-बार नकारा है।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि नान घोटाला, पनामा पेपर घोटाला, डीकेएस घोटाला, अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला, पुष्प स्टील घोटाला करने वाले रमन सिंह कांग्रेस सरकार पर काल्पनिक घोटाले का आरोप लगा कर स्तरहीन आरोप लगा रहे। रमन सिंह और भाजपा पिछले सवा तीन साल में कांग्रेस सरकार पर सवा तीन रू. का भी दस्तावेजी आरोप नहीं लगा पाई है जबकि रमन सिंह पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के नान डायरी, पनामा पेपर, अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले जैसे दस्तावेजी प्रमाण सामने आये थे। इन आरोपों से अभी तक रमन सिंह बरी नहीं हुये है।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि रमन सिंह में साहस नहीं था कि राज्य की जनता के हित में वे खुले तौर पर छत्तीसगढ़ से रद्द की गयी 45 से अधिक ट्रेनों को पुनः चालू करने की प्रभावी मांग कर सकें। उन्होंने ट्रेनों के बंद होने पर गोलमोल जवाब देकर मोदी सरकार का बचाव किया है। कोयला उत्खनन परिवहन समय पर मोदी सरकार नहीं करवा पाई तो उसका खामियाजा जनता क्यों भुगते?

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि कांग्रेस प्रदेश में लोकतांत्रिक और जवाबदेह सरकार चला रही मुख्यमंत्री के साथ मंत्रीगण दौरे पर निकले है अपने विभागों की समीक्षा कर रहे है। सभी मंत्री मुख्यमंत्री के पहले अपने विभागों की योजना पर दौरे पर जा रहे है। 15 सालों तक रमन सिंह सरकार पर एकाधिकार चला रहे थे। कांग्रेस सामूहिक उत्तरदायित्व की भावना के साथ सरकार चला रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button