राजनीति

भूपेश नायक की जगह, खलनायक की तरह जनता-महिलाओं को डांटते और चुप कराते नजर आ रहे हैं- बृजमोहन अग्रवाल

नायक बनने निकले भूपेश बघेल को जनता आइना दिखा रही है कि वे नायक नहीं, खलनायक गिरोह के महानायक हैं

AINS RAIPUR… भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता और विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा है कि भूपेश के फैसला ऑन द स्पॉट से भूपेश सरकार की ही साढे़ तीन साल के कुशासन, प्रशासनिक अराजकता, भ्रष्टाचार, महंगाई, और छत्तीसगढ़ को अपराधगढ़ बनाने की भूपेश की खुद की पोल खुलती जा रही है, जनता हर जगह खुलकर सरकार की पोल खोलते हुए विरोध कर रही और भूपेश नायक की जगह, खलनायक की तरह जनता-महिलाओं को डांटते और चुप कराते नजर आ रहे हैं।

छत्तीसगढ़ की कमीशन सरकार की विदाई सुनिश्चित हो गई है। नायक बनने निकले भूपेश बघेल को जनता आइना दिखा रही है कि वे नायक नहीं, खलनायक गिरोह के महानायक हैं। यह सबसे ज्यादा भ्रष्ट और कमीशनखोर सरकार है, जिसमें दस फीसदी कमीशन नौकरशाही के निचले क्रम का कमीशन है। बढ़ते क्रम में स्थिति यह है कि राजीव गांधी के जमाने का कीर्तिमान ध्वस्त है। तब रुपये में पंद्रह पैसे का लाभ जनता तक पहुंच जाता था। भूपेश बघेल के राज में दस पैसे का लाभ भी जनता तक नहीं पहुंच रहा। यह सरकार छत्तीसगढ़ के लिए कलंक है। पंद्रह साल का विकास साढ़े तीन साल में कमीशन और भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया। बृजमोहन ने कहा कि, ऑन द स्पॉट फैसला में स्वयं भूपेश ने राजस्व विभाग, वन विभाग, पंचायत विभाग, स्वास्थ्य विभाग, जल संसाधन विभाग आदि पर कार्यवाही करते हुए खुद अपने साढे़ तीन साल के सबसे ज्यादा भ्रष्ट कुशासन का सबूत दे रहे है।

जिस सरकार के मंत्रियों पर उसी के विधायक भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हैं, जिस सरकार के मंत्री कलेक्टर को भ्रष्ट बताकर उस पर कार्रवाई न होने पर सहमति मानने की स्पष्ट भावना व्यक्त करते हैं, जिस सरकार में विधायक पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाने पर सत्ताधारी दल से जुड़े युवा को पार्टी से निकाल दिया जाता है, वह सरकार जनता को लूटने वाले बड़े-बड़े महारथियों को संरक्षण देकर छोटे मोटे कर्मचारियों, अधिकारियों पर दिखावे की कार्रवाई करके अपनी असलियत छुपा नहीं सकती।

बृजमोहन ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने झूठ का जो तानाबाना खड़ा किया है, वह उनके ही मैदानी दौरे में बेनकाब हो गया है। अभी तो पार्टी शुरू हुई है। पांच रोज में ही झूठी शान के परखच्चे उड़ गए। जहां-जहां भूपेश बघेल जा रहे हैं, वहां-वहां जनता उनको उनका असल चेहरा दिखा रही है। तीन साल में केंद्र की आर्थिक मदद से टिके भूपेश बघेल पैसों की तंगी का रोना रोने की बीमारी से पीड़ित हैं और दूसरी तरफ उनकी सरकार ने छत्तीसगढ़ को कमीशन प्रशासन दे रखा है। भ्रष्टाचार तो कांग्रेस के डीएनए में ही है लेकिन भूपेश बघेल की सरकार ने इस मामले में नम्बर वन का खिताब जीतने में कोई कसर बाकी नहीं रखी है। दूसरों को अपना आइना दिखाने वाले भूपेश बघेल को जनता ने उनके ही आइने में उनकी बदरंग सूरत दिखा दी है।छत्तीसगढ़ की जनता को इस साफगोई के लिए बृजमोहन का सादर प्रणाम और आभार। अब जनता अगले 2023 के चुनाव में भूपेश सरकार को धूल चटायेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button