राष्ट्रीय

कांग्रेस का चिंतन शिविर , हर स्तर पर 50% पदाधिकारी 50 वर्ष से कम के होंगे, नहीं उतारेंगे पैराशूट उम्मीदवार

कोई भी नेता पांच साल से अधिक किसी पद पर नहीं रहेगा। इतना ही नहीं किसी पैराशूट उम्मीदवार को भी टिकट नहीं मिलेगा।

AINS RAIPUR…कांग्रेस के नव संकल्प शिविर में 400 से ज्यादा प्रतिनिधि और नेता भाग लेने उदयपुर पहुंच रहे हैं। इनके लिए तमाम इंतजाम किए गए हैं। कांग्रेस ने चिंतन शिविर के लिए महत्वकांक्षी प्रस्ताव तैयार किए हैं। इसके तहत कोई भी नेता पांच साल से अधिक किसी पद पर नहीं रहेगा। इतना ही नहीं किसी पैराशूट उम्मीदवार को भी टिकट नहीं मिलेगा। नेताओं के रिश्तेदारों को पहले पांच साल तक पार्टी में काम करना होगा, उसके बाद ही उन्हें टिकट मिल सकेगा। इस फैसले को पार्टी पर लगने वाले परिवारवाद के आरोपों का जवाब बताया जा रहा है।

कांग्रेस नेता अजय माकन ने प्रेस ब्रीफिंग में बताया कि पैनल सदस्यों में इस बात पर सहमति बनी है कि पार्टी के नेताओं के किसी भी रिश्तेदार को तब तक टिकट नहीं मिलेगा, जब तक कि वे पार्टी के लिए काम नहीं करते। उन्हें कम से कम पांच साल कांग्रेस पार्टी का काम करना होगा। उसके बाद ही नेताओं के रिश्तेदारों को टिकट देने पर विचार किया जाएगा। इसके साथ ही कोई भी व्यक्ति यदि किसी पद पर पांच साल तक रहता है तो उसे वह पद छोड़ना होगा। तीन साल का कूलिंग पीरियड रहेगा। उसके बाद वह फिर उस पद पर काबिज हो सकता है। इस तरह कोई भी व्यक्ति पांच साल से अधिक किसी पोस्ट पर नहीं रहेगा। यह प्रस्ताव नव संकल्प चिंतन शिविर में पेश किए जाएंगे।

मोदी जी प्रेस कॉन्फ्रेंस क्यों नहीं करते?
लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि मुझे समझ नहीं आता कि पता नहीं मोदीजी प्रेस कॉन्फ्रेंस क्यों नहीं करते… हमारे लोकतंत्र, संविधान को बचाना बेहद महत्वपूर्ण है। विरोध करने वालों का वह लोग दमन करते हैं। हमें अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को बचाना होगा। मोदी जी झूठ बोलते रहते हैं और फिर पकड़े गए तो कहते हैं कि चुनावी जुमला था। लोग जुमलों को महत्व देते हैं और हमारे त्याग, परिश्रम को महत्व नहीं देते तो यह हमारे साथ नाइंसाफी है। उन्होंने यह भी कहा कि संकल्प शिविर में कई विषयों पर डिटेल से चर्चा होगी। प्रमुख रूप से नौ विषयों पर चर्चा होगी। उन विषयों को चिंतन शिविर में रखा जाएगा। सभी प्रतिनिधि शामिल होंगे। उन विषयों पर सविस्तार से बात करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button