छत्तीसगढ़

कांग्रेस का चिंतन शिविर देश की राजनीति में दूरगामी परिणाम लाएगा

कौशिक का कांग्रेस के चिंतन शिविर के बारे टिप्पणी राजनैतिक अपरिपक्वता

AINS RAIPUR…कांग्रेस का उदयपुर में सम्पन्न हुआ चिंतन शिविर देश की राजनीति में दूरगामी परिणाम लाएगा ।प्रदेश कांग्रेस के संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि कांग्रेस आजादी के आंदोलन के दौरान और उसके बाद लगातार पार्टी का अधिवेशन बुला कर देश की दशा दिशा और कांग्रेस की भूमिका पर चिंतन करते रही है ।कांग्रेस के सार्थक चिंतन और रणनीति का ही परिणाम है जो देश को आजादी मिली और उसके बाद देश का नव निर्माण हो कर शशक्त भारत बना ।नेता प्रतिपक्ष धर्म लाल कौशिक द्वारा कांग्रेस के चितन शिविर के बारे में गयी टिप्पणी अमर्यादित और अपरिपक्व है। दूसरे दल के राजनैतिक सम्मेलन पर की गई सतही टिप्पणी कौशिक के पूर्वाग्रह को प्रदर्शित करती है। दर असल कौशिक में भारतीय जनता पार्टी के संस्कार है जिसका चिंतन और बौद्धिकता से दूर तक नाता नहीं ।भाजपा का चिंतन देश मे साम्प्रदायिक विद्वेष पैदा करना साम्प्रदायिक सद्भावना को बिगाड़ने तक सीमित रहता है।भाजपा का चितन भारत तोड़ो का है कांग्रेस का चिंतन भारत जोड़ो का है ।

 

कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि कांग्रेस के चिंतन शिविर में देश के वर्तमान हालात पर गम्भीर विमर्श हुआ।केंद्र सरकार ने हिंदुस्तान के युवाओं के भविष्य को नष्ट कर दिया है. एक तरफ बेरोजगारी दूसरी तरफ महंगाई, यूक्रेन में. युद्ध हुआ है आने वाले समय में मुद्रा स्फ़ीति पर इसका असर पड़ेगा. कांग्रेस पार्टी ने निर्णय लिया है कि अक्टूबर महीने में पूरी कांग्रेस पार्टी जनता के बीच जाएगी और भारत जोड़ो यात्रा करेगी. जनता के साथ जो रिश्ता कांग्रेस का था उसे फिर से पूरा करेगी. कांग्रेस में आंतरिक बातचीत की अनुमति है. भाजपा और आरएसएस में ऐसी बात नहीं है कांग्रेस अपने मंच पर खुली सार्थक चर्चा की पक्षधर है अपने नेताओं को ऐसी स्वतंत्रता दूसरे दलों में नहीं है।

कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि नव संकल्प चिंतन शिविर में देश के हर वर्ग किसान मजदूर युवा महिला अनुसूचित जाति जनजाति ओबीसी हर वर्ग की बेहतरी के लिए रणनीति बनाई गई तथा कांग्रेस संगठन में उनकी सहभागिता पर भी चर्चा हुई ।देश के हर वर्ग की इतनी वृहद चिंता कांग्रेस पार्टी ही कर सकती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button