छत्तीसगढ़

बंद ट्रेनें तुरंत बहाल करने और रेल निजीकरण पर रोक की मांग, रेल मंत्री के नाम माकपा ने डीआरएम को सौंपा ज्ञापन

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने प्रदेश के 17 से अधिक बंद ट्रेनों के संपूर्ण परिचालन के साथ ही रेलवे के निजीकरण पर रोक की मांग की

AINS RAIPUR…मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने प्रदेश के 17 से अधिक बंद ट्रेनों के संपूर्ण परिचालन के साथ ही रेलवे के निजीकरण पर रोक की मांग की ।इस संबध में माकपा के एक प्रतिनिधिमंडल जिसमे माकपा नेता धर्मराज महापात्र, प्रदीप गभने, एस सी भट्टाचार्य, राजेश अवस्थी, के के साहू, साजिद रजा, मोहम्मद शकील, सम्यक जैन, विपुल देवांगन, देवगुरु पांडे शामिल थे ने रायपुर रेल मंडल प्रबंधक श्री श्यामप्सुंदर गुप्ता को रेल मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर उक्त मांग की । माकपा नेता धर्मराज महापात्र एवं प्रदीप।गाभने ने बताया कि पार्टी ने अपने ज्ञापन में निम्न मांग की –
1. रेल प्रशासन द्वारा विगत दिनों प्रदेश से होकर गुजरने वाली लगभग बंद की गई 17 विभिन्न ट्रेनों जिसमे लोकल व मेमू ट्रेन भी शामिल थीं को पूर्ण रूप से बहाल किया जाय ।
2. रायपुर रेल मंडल तथा बिलासपुर जोन रेलवे के राजस्व मे बड़ा योगदान देते है अतः उस अनुरूप रेल सुविधाओं के प्रदेश में विस्तार सुनिश्चित किया जाय ।
3. रेलवे स्टेशन के साफ सफाई, उचित गुणवत्ता के खाद्य एवं पेय पदार्थ तथा उसके लिए निर्धारित मूल्य पर ही यात्रियों को समान की उपलब्धता सुनिश्चित की जाय ।
4. रेलवे की संपत्ति, ट्रेन परिचालन, निर्माण से संबधित किसी भी सेवा के निजीकरण की नीति पर पूर्णतः रोक लगाई जाए ।
5. रेलवे की सभी श्रेणी की सभी रिक्तियों में भर्ती की नियमित प्रक्रिया प्रारंभ कर युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराया जाय ।
6. रेलवे की जमीन पर काबिज झुग्गीवासियों को स्थाई पट्टा प्रदान किया जाय ।*
पार्टी ने इन मांगों पर शीघ्र सकारात्मक कार्यवाही न होने पर आंदोलन की भी चेतावनी दी ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button