राष्ट्रीय

पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और ओडिशा में आज से मानसून पूर्व गतिविधियां शुरू होने का पूर्वानुमान

सप्ताह  के दौरान देश के किसी भी हिस्से में लू चलने का अनुमान नहीं है।

AINS DESK…देश के कई राज्य इस समय मौसम की बेरुखी के कारण भीषण गर्मी की चपेट में हैं और अगले दो-तीन दिनों तक इसी प्रकार की परेशानियों से जूझना पड़ेगा। इस बीच भारतीय मौसम विभाग ने छत्तीसगढ़ के लिए रहत भरी खबर दी है। भारतीय मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और ओडिशा में आज से मानसून पूर्व गतिविधियां शुरू होने का पूर्वानुमान है ।  पश्चिमोत्तर और मध्य भारत के कई हिस्सों में शनिवार को भी लू चली, हालांकि इससे प्रभावित क्षेत्र के आकार में मामूली कमी आई है।

भारत मौसम विज्ञान ने बताया कि पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, बिहार और झारखंड के इलाकों में लू का प्रकोप दो दिन तक जारी रहेगा। राजस्थान, मध्य प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, झारखंड और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में शनिवार को लू की स्थिति बनी रही और उत्तर प्रदेश 46.2 डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ देश का सबसे गर्म स्थान रहा। इन राज्यों के कम से कम 22 कस्बों और शहरों में अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस से ऊपर दर्ज किया गया।

गर्म और शुष्क पश्चिमी हवाओं के कारण पश्चिमोत्तर और मध्य भारत 2 जून से लू की चपेट में है। विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक आर के जेनामणि ने बताया कि दिल्ली-एनसीआर और पश्चिमोत्तर भारत के अन्य हिस्सों में अधिकतम तापमान में सप्ताहांत में कुछ डिग्री की कमी आएगी, लेकिन 15 जून तक कोई बड़ी राहत मिलने की संभावना नहीं है। मौसम विभाग के अनुसार नमी युक्त पुरवाई चलने से 16 जून से भीषण गर्मी से काफी राहत मिलेगी।

लेकिन उत्तरी राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तरी मध्य प्रदेश में 15 जून तक तापमान सामान्य से अधिक बना रहेगा। मौसम विभाग ने बताया कि अगले चार दिन में पश्चिमोत्तर भारत में अधिकतम तापमान में किसी खास बदलाव की संभावना नहीं है। 16 जून से 22 जून के बीच अधिकतम तापमान सामान्य से कम या सामान्य के निकट रहने की संभावना है। उसने कहा कि सप्ताह  के दौरान देश के किसी भी हिस्से में लू चलने का अनुमान नहीं है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button