छत्तीसगढ़

राहुल को निकालने की तैयारी, सुरंग के बाहर सभी जवान अलर्ट मोड़ में

टीम के सदस्यों के कपड़े धूल से सने हैं। पसीने के दाग पड़ गए हैं।

जांजगीर-चाम्पा। सुरंग के बाहर स्ट्रेचर ले जाने चैन बनाई जा रही है. वही सुरंग के बाहर सभी जवान अलर्ट मोड़ में है.बता दें कि जांजगीर जिले के मालखरौदा ब्लॉक का गांव पिहरिद नेशनल मीडिया में है। यहां एक दिव्यांग बच्चा राहुल साहू जो पिछले 96 घंटे से बोरवेल में फंसा हुआ है। इतने ही घंटे से रेस्क्यू टीम डटी हुई है। टीम के सदस्यों के कपड़े धूल से सने हैं। पसीने के दाग पड़ गए हैं।

खाने-पीने के लिए कभी सरपंच की ओर से, कभी प्रशासन और पुलिस की ओर से तो कभी विधायक की ओर से व्यवस्था की जा रही है। मेडिकल टीम बड़ी बेचैनी से एंबुलेंस के आसपास ही इस इंतजार में बैठी है कि राहुल बाहर आए और उसकी प्रारंभिक जांच और इलाज करते हुए सीधे बिलासपुर की ओर भागें, जिससे तत्काल प्रभाव से उसे बेहतर इलाज मिल सके। मेडिकल टीम के सदस्य यह जानते हैं कि 96 घंटे से राहुल जिस तरह पानी और कीचड़ में है, उससे किस तरह की समस्याएं आ सकती हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button