राष्ट्रीय

बिहार में आज फिर सुबह से बवाल जारी, जहानाबाद में ट्रक और बस में लगाई आग

Agnipath Scheme, प्रदर्शनकारियों की ओर से आगजनी और पथराव की खबर पाकर जहानाबाद के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक भी मौके पर पहुंच गए.

Agnipath Scheme: बिहार में सेना भर्ती की नई स्कीम अग्निपथ को लेकर चौथे दिन, शनिवार की सुबह से फिर से विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है. युव आज सुबह से ही सड़कों पर उतर आए हैं, संग्राम जारी है.

शनिवार की सुबह-सुबह ही जहानाबाद में युवा सड़कों पर उतर आए और आगजनी की. जहानाबाद जिले के टेहटा में प्रदर्शनकारियों ने एक ट्रक और एक बस को आग लगा दी. ये घटना टेहटा आउट पोस्ट के करीब की है. प्रदर्शनकारियों ने पथराव भी किया. सड़क पर पत्थर बिखरे पड़े हैं. घटना की सूचना पाकर मौके पर भारी पुलिस बल पहुंच गया है. प्रदर्शनकारियों की ओर से आगजनी और पथराव की खबर पाकर जहानाबाद के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक भी मौके पर पहुंच गए.

पुलिस फोर्स की ओर से प्रदर्शनकारियों को समझा-बुझाकर हालात को काबू करने के प्रयास किए जा रहे हैं. बता दें कि अग्निपथ की आग में बिहार के कई जिले पिछले तीन दिनों से झुलस रहे हैं. प्रदर्शनकारियों ने तीन दिन में कई वाहनों में आग लगा दी तो कई ट्रेनों में भी आगजनी की. बिगड़ते हालात को देखते हुए बिहार सरकार ने प्रदेश के 15 जिलों में इंटरनेट सेवा सस्पेंड कर दी है. इंटरनेट सेवा सस्पेंड करने का ये आदेश कल तक यानी 19 जून तक लागू रहेगा.

आज बिहार बंद का ऐलान

सेना में भर्ती के लिए अग्निपथ योजना के विरोध में जारी हिंसक प्रदर्शनों के बीच कई छात्र संगठनों ने आज बिहार बंद का आह्वान किया है. छात्र संगठनों के बिहार बंद का राष्ट्रीय जनता दल, हिंदुस्तान अवाम मोर्चा और विकासशील इंसान पार्टी ने भी समर्थन किया है. सेना की नई अग्निपथ योजना के खिलाफ बिहार के छात्र-युवा संगठन आईसा-इनौस, रोजगार संघर्ष संयुक्त मोर्चा और सेना भर्ती जवान मोर्चा ने शनिवार को बिहार बंद की घोषणा की ह. बंद को लेकर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध के दावा किए गए हैं. बिहार बंद को लेकर प्रशसन और पुलिस सख्त नजर आ रही है. पटना में भी सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं. पटना में सुबह से ही जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सडकों पर घूम-घूमकर सुरक्षा जायजा ले रहे हैं.

पटना के जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने बताया कि पटना में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं. सभी संदिग्ध इलाकों में पुलिस बलों की प्रतिनियुक्ति की गई है. उन्होंने कहा कि शुक्रवार को हुई अप्रिय घटनाओं में 170 लोगों की पहचान कर ली गई है, जिसमें से 46 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने छात्रों से शांतिपूर्वक विरोध करने का आग्रह किया है. गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव ने उपद्रवियों से सख्ती से निपटने के आदेश दिए हैं. इस बीच राज्य के 15 जिलों में अगले 48 घंटे के लिए इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है. इसके तहत सोशल नेटवर्किं ग साइट पर पाबंदी लगा दी गई है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button