राष्ट्रीय

पीएम मोदी आज प्रगति मैदान इंटीग्रेटेड ट्रांजिट कोरिडोर का करेंगे उद्घाटन

यह परियोजना प्रगति मैदान पुनर्विकास परियोजना का हिस्सा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे।

 

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज दिल्ली के प्रगति मैदान इंटीग्रेटेड ट्रांजिट कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे। 1.6 किलोमीटर लंबी दिल्ली की यह पहली सुरंग पूर्वी दिल्ली, नोएडा और गाजियाबाद से इंडिया गेट और अन्य मध्य दिल्ली क्षेत्रों की यात्रा करने वाले यात्रियों को आईटीओ, मथुरा रोड और भैरों मार्ग पर ट्रैफिक जाम से बचाने में मदद करेगी। यह परियोजना प्रगति मैदान पुनर्विकास परियोजना का हिस्सा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे।

प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि प्रगति मैदान इंटीग्रेटेड ट्रांजिट कॉरिडोर परियोजना 920 करोड़ रुपए से अधिक की लागत से बनाई गई है और पूरी तरह से केंद्र सरकार द्वारा वित्त पोषित है। यह सुरंग अग्नि प्रबंधन, स्वचालित जल निकासी, डिजिटल रूप से नियंत्रित सीसीटीवी और सार्वजनिक घोषणा प्रणाली के साथ नवीनतम वैश्विक मानक सुविधाओं से लैस है।

 

इस टनल का निर्माण कार्य जनवरी 2018 में शुरू हुआ था और लेकिन निर्माण कार्य में आ रहीं परेशानियों को देखते हुए इसकी समय सीमा को जून 2020 तक बढ़ा दिया गया था। फिर बाद में COVID-19 लॉकडाउन के कारण इसके निर्माण कार्य में काफी समय लगा।

 

यह परियोजना दिल्ली के लोगों के लिए कई मायनों में फायदेमंद है। इसके शुरू होने से जहां लोगों का आइटीओ क्षेत्र में आवागमन आसान हो जाएगा वहीं प्रदूषण भी बहुत कम हो जाएगा। लोगों का समय बचेगा और जाम में फंसने पर खर्च होने वाले ईंधन के पैसे बचेंगे। इसके साथ ही इसके शुरू हो जाने से इस क्षेत्र का 70 से लेकर 78 फीसदी तक यातायात इस सुरंग सड़क से गुजरने लगेगा।

 

भारतीय व्यापार संवर्धन संगठन (ITPO) के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक एलसी गोयल ने कहा कि की पीएम मोदी टनल के साथ पांच अंडरपास का भी शुभारंभ करेंगे। वहीं भैरों मार्ग से रिंग रोड को जोड़ने वाला छठा अंडरपास पांच से छह हफ्ते बाद खोला जाना है। वहीं इस टनल को लेकर लोक निर्माण विभाग (PWD) के अधिकारियों ने कहा इस टनल के खुलने से इंडिया गेट, सुप्रीम कोर्ट, मथुरा रोड जाने वाले यात्रियों को जाम से राहत मिलेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button