राष्ट्रीय

योग व्यक्ति मात्र के लिए नहीं, संपूर्ण मानवता के लिए: पीएम मोदी

कर्नाटक के दौरे पर आए पीएम मोदी मैसूर से पूरी दुनिया को योग मानवता का संदेश दिया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 8वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (8th International Yoga Day) के अवसर पर मैसूर पैलेस मैदान (Mysore Palace Ground) में सामूहिक योग कर रहे हैं. कर्नाटक के दौरे पर आए पीएम मोदी मैसूर से पूरी दुनिया को योग मानवता का संदेश दिया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि योग अब एक वैश्विक पर्व बन गया है. योग किसी व्यक्ति मात्र के लिए नहीं, संपूर्ण मानवता के लिए है. इसलिए, इस बार ‘अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस’ की थीम ‘मानवता के लिए योग’ रखी गई है.

योग दिवस की स्वीकार्यता भारत की भावना की स्वीकार्यता: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश दुनिया के सभी लोगों को 8वें ‘अंतरराष्ट्रीय योग दिवस’ की शुभकामनाएं देते हुए अपने संबोधन की शुरुआत की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत में हम इस बार योग दिवस ऐसे समय पर मना रहे हैं, जब देश आजादी के 75वें वर्ष का पर्व मना रहा है, अमृत महोत्सव मना रहा है. योग दिवस की ये व्यापकता, ये स्वीकार्यता भारत की उस अमृत भावना की स्वीकार्यता है जिसने भारत के स्वतंत्रता संग्राम को ऊर्जा दी थी.

हमें योग को जीना है: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमें योग को एक अतिरिक्त काम के तौर पर नहीं लेना है. हमें योग को जानना भी है, जीना भी है, अपनाना भी है, पनपाना भी है. जब हम योग को जिने लगेंगे तब योग दिवस हमारे लिए योग करने का नहीं बल्कि अपने स्वास्थ्य, सुख, शांति का जश्न मनाने का माध्यम बन जाएगा. पीएम मोदी ने कहा कि हम कितने तनावपूर्ण माहौल में क्यों न हों, कुछ मिनट का ध्यान हमें शांत कर देता है, हमारी उत्पादकता को बढ़ा देता है.

Related Articles

Back to top button