छत्तीसगढ़

कांग्रेस मुख्यालय पर सत्याग्रह, राहुल गांधी बोले – कांग्रेस का मतलब ही धैर्य है

अग्निपथ पर राहुल गांधी ने कहा - "ये जो नया अग्निपथ स्कीम हैं उसे हर हालत में वापस लेना पड़ेगा।

रायपुर /दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के मुख्यालय में हो रहे सत्याग्रह में भाग लिया। इस दौरान उन्होंने पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि “ED के सामने अकेला राहुल गांधी नहीं बैठा था। कांग्रेस के सभी नेता, कार्यकर्ता एवं वो तमाम लोग बैठे थे जो भाजपा के खिलाफ हैं”. “ईडी और ऐसी एजेंसियों का मुझ पर कोई असर नहीं, मुझसे पूछताछ करने वाले अधिकारी भी समझ गए कि कांग्रेस पार्टी के नेता को डरा कर दबाया नहीं जा सकता।”

“लंबी पूछताछ के दौरान ईडी अधिकारी थक जाते थे ,इसलिए वो बीच में कई बार उठकर चले जाते थे।लेकिन मैं कुर्सी पर सीधे बैठा रहता था। मुझे ईडी अफसरों ने पूछा-राहुल जी आप बिल्कुल नहीं थकते,इसका क्या राज है ?” ED वैगर सब छोड़िए हम सबकों उस युवा के भविष्य को बचाना है जो रोज सुबह 4 बजकर उठकर देश की सेवा करने के सपनें के साथ दौड़ता है। और हम उन तमाम युवा साथियों के हक के लिए लड़ेंगें। “कांग्रेस का मतलब ही धैर्य है। वरना भाजपा में सिर्फ हाथ जोड़ दो, माथा टेक दो, सच्चाई मत बोलो काम हो जाएगा ।”

अग्निपथ पर राहुल गांधी ने कहा – “ये जो नया अग्निपथ स्कीम हैं उसे हर हालत में वापस लेना पड़ेगा। मैने कृषि बिल पर कहा था कि तीन काले कानून वापस लेना पड़ेगा और मोदी सरकार ने वापस लिया। अब फिर कह रहा हूं.

Related Articles

Back to top button