राष्ट्रीयव्यापार

मौसम की मिजाज से टमाटर फिर हुआ लाल, इन शहरों में दाम सातवें आसमान पर

दिल्ली-एनसीआर में पिछले एक हफ्ते में टमाटर के दामों में तेजी आई है। यह फुटकर में 80 से 100 रुपये किलो तक बिक रहा है। अन्य सब्जियों की कीमतें भी बढ़ी हैं। आढ़ती इसके पीछे कारण आवक की कमी, बारिश और तेज गर्मी को बता रहे हैं।

उनका कहना है कि कई राज्यों में बारिश की वजह से टमाटर और अन्य सब्जियों के उत्पादन पर असर पड़ा है। इससे आवक प्रभावित हो रहा है। साथ ही तेज गर्मी की वजह से यह जल्दी खराब हो रही है। इससे इसकी कीमतों पर असर पड़ रहा है।

अगर फुटकर और सब्जी मंडी की थोक कीमतें देखी जाएं तो इनमें भी भारी अंतर है। आजादपुर सब्जी मंडी के आढ़ती जय किशन के अनुसार मंडी में लौकी 10 से 15, तोरई 12 से 18, नींबू 35 से 45 और हरी मिर्च 22 रुपये प्रति किलो बिकी, लेकिन बाहर फुटकर की कीमतों में दोगुने से अधिक का अंतर है। जूस में इस्तेमाल होने वाला सफेद आम भी महंगा हो गया है। हालांकि, पश्चिमी यूपी और लखनऊ की ओर से आने वाला दशहरी मंडी में 35 से 40 रुपये प्रति किलो बिका है।

फरीदाबाद में 80 रुपये किलो
फरीदाबाद में एक सप्ताह के अंदर सब्जियों और फलों के दामों में बढ़ोतरी हुई है। सब्जियों में टमाटर इस समय सबसे महंगा है। बढ़िया टमाटर का दाम 80 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गया है,जबकि सेब का भाव 220 रुपये किलो तक है।

नोएडा: दस दिनों में दोगुने हुए दाम
पिछले दस दिनों में सब्जियों के भाव डेढ़ से दोगुने तक हो गए हैं। नोएडा में एक बार फिर टमाटर लाल हो गया है। बाजार में यह 100 रुपये किलो के करीब तक बिक रहा है। सब्जी व्यापारियों का कहना है कि तेज गर्मी के चलते खेतों में सब्जियां सूख रही हैं। आवक में भी कमी देखी जा रही है।

गुरुग्राम : चढ़ा भाव
मिलेनियम सिटी में सब्जियों में टमाटर सबसे से अधिक महंगा है। देसी टमाटर का दाम 50 से 60 रुपये और बैंगलूरू से आने वाला टमाटर 80 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गया है। जबकि, सेब का भाव 200 रुपये किलो तक है।

ट्रांस हिंडन : हफ्ते भर में आया अंतर
एक सप्ताह के अंदर टमाटर के दाम में बढ़ोतरी हुई है। बीते बुधवार को जहां टमाटर 40-50 रुपये बिक रहा था वह 100 रुपये किलो तक पहुंच गया है। गर्मी में जल्दी खराब होने से टमाटर कम मंगाया जा रहा है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button