राजनीतिराष्ट्रीय

शरद पवार का दावा- नहीं चलेगी एकनाथ शिंदे की सरकार, महाराष्ट्र में होंगे चुनाव

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बैठक में शामिल राकांपा के एक नेता ने शरद पवार के हवाले से कहा, 'महाराष्ट्र में नवगठित सरकार अगले छह महीनों में गिर सकती है, इसलिए सभी को मध्यावधि चुनाव के लिए तैयार रहना चाहिए.

राजनीती में कुछ न कुछ तलवार देखने को मिल जाती है. कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार ने रविवार को कहा कि महाराष्ट्र में मध्यावधि चुनाव होने की आशंका है, क्योंकि शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाली सरकार अगले 6 महीनों में गिर सकती है.

उन्होंने यह बयान अन्य नेताओं को संबोधित करते हुए दिया. पार्टी के विधायकों अन्य नेताओं से राज्य में मध्यावधि चुनाव की संभावना को ध्यान में रखते हुए जनसम्पर्क बढ़ाने के लिए शरद पवार ने ये बयान दिया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बैठक में शामिल राकांपा के एक नेता ने शरद पवार के हवाले से कहा, ‘महाराष्ट्र में नवगठित सरकार अगले छह महीनों में गिर सकती है, इसलिए सभी को मध्यावधि चुनाव के लिए तैयार रहना चाहिए.’ एनसीपी नेता के मुताबिक, ‘शरद पवार ने बैठक में कहा कि शिंदे का समर्थन कर रहे कई बागी विधायक मौजूदा व्यवस्था से खुश नहीं हैं. जब मंत्रियों के विभागों का बटवारा होगा तब उनके परेशान होने का परिणाम होगा कि सरकार गिर जाएगी.

शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस के गठबंधन वाली महा विकास अघाड़ी सरकार के पतन के बाद एकनाथ शिंदे ने गत 30 जून को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी, जबकि भाजपा के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस ने उनके डिप्टी के रूप में शपथ ली.

बीजेपी नेता बने महाराष्ट्र विधानसभा के नए अध्यक्ष
एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में लगभग 40 शिवसेना विधायकों ने पार्टी नेतृत्व के खिलाफ 22 जून को विद्रोह कर दिया था पहले सूरत फिर गुवाहाटी के होटल में कैम्प कर गए थे. जिसके परिणामस्वरूप 29 जून को उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार गिर गई थी. बीजेपी विधायक राहुल नार्वेकर अब नए स्पीकर चुने गए

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button