छत्तीसगढ़

स्मृती इरानी का सवाल.. कांग्रेस शासित राज्य ईंधन की कीमतों में कमी क्यों नहीं कर रहे

हाल ही में पेट्रोल डीजल की कीमतों में कमी करके केंद्र सरकार ने आम आदमी को राहत दी है

AINS RAIPUR…हाल ही में पेट्रोल डीजल की कीमतों में कमी करके केंद्र सरकार ने आम आदमी को राहत दी है। वहीं कुछ राज्यों ने अपने यहां तेल के दाम घटाए हैं लेकिन कुछ राज्यों ने अभी तक कोई राहत नहीं दी है। इस पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने शनिवार को सवाल किया कि केंद्र सरकार द्वारा पिछले महीने उपभोक्ताओं को राहत देने के बाद कांग्रेस शासित राज्य ईंधन की कीमतों में कमी क्यों नहीं कर रहे हैं।

गांधी परिवार पर भी निशाना साधा
दरअसल, स्मृति ईरानी छत्तीसगढ़ के भाजपा कार्यालय में पत्रकारों से बात कर रही थीं इस दौरान उन्होंने गांधी परिवार पर भी निशाना साधा और कहा कि अमेठी के विकास के लिए गांधी परिवार ने कुछ नहीं किया, भले ही यह क्षेत्र लंबे समय तक पारिवारिक गढ़ रहा हो। बता दें कि उत्तर प्रदेश के अमेठी से राहुल गांधी कई बार सांसद बने थे, लेकिन 2019 के आम चुनावों में ईरानी ने गांधी को पटखनी दी थी।

मोदी सरकार की तारीफ की
उन्होंने केंद्र सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में नौ रुपये और सात रुपये की कमी की और लोगों को राहत सुनिश्चित करने के लिए एक लाख करोड़ रुपये का बोझ उठाया।
साथ ही कहा कि उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को प्रति सिलेंडर 200 रुपये की छूट मिली। मुफ्त कोरोना टीके और राशन और इसी तरह के कई मानवीय कदम राष्ट्र के हित में उठाए गए। उन्होंने पूछा कि कांग्रेस शासित राज्य तेल की कीमतें क्यों नहीं घटा रहे हैं।

अमेठी में नहीं था पासपोर्ट कार्यालय
केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि 50 वर्षों से अमेठी में एक ही परिवार का स्वामित्व था, जिसके परिणामस्वरूप वहां के 80 प्रतिशत घरों में 2014 से पहले बिजली कनेक्शन या शौचालय नहीं था। यहां तक कि एक कलेक्टर कार्यालय भी नहीं था। आगे उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने विदेशों का दौरा किया लेकिन अमेठी में पहला पासपोर्ट कार्यालय पीएम मोदी और तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज द्वारा स्थापित किया गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button