छत्तीसगढ़

देवभोग दुग्ध महासंघ के खिलाफ पार्लर संघ लामबंद

खुदकुशी के लिए मजबूर करने वाले अफसरों पर कार्रवाई और मुआवजे की मांग

AINS RAIPUR…छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी दुग्ध महासंघ द्वारा दुग्ध पदार्थों की बेतहाशा मूल्यवृद्धि और पार्लर संचालकों पर दबाव बढ़ाकर उन्हें आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने के विरुद्ध दुग्ध पार्लर संघ ने संघर्ष करने का फैसला लिया है। पार्लर संघ ने पत्नी व बच्चों सहित आत्महत्या के लिए मजबूर किये गए सदस्य जितेंद्र देवांगन के परिजनों को 25 लाख रुपए मुआवजा देने तथा जिम्मेदार अधिकारी के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किए जाने की मांग करते हुए कहा है कि इस मामले को शासन के संज्ञान में लाया जाएगा।

देवभोग दुग्ध पार्लर संघ के प्रदेश अध्यक्ष शिव दत्ता (राकेश) की अध्यक्षता में आज आयोजित बैठक में सदस्यों ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया है कि दुग्ध महासंघ द्वारा लिए गए जनविरोधी निर्णय तथा दुग्ध उत्पाद विक्रेताओं पर अनावश्यक दबाव बढ़ाने के कारण जो स्थितियां उत्पन्न हुई हैं, उन्हें देखते हुए देवभोग के दुग्ध पदार्थों के तब तक बहिष्कार का निर्णय भी लिया जा सकता है जब तक कि दुग्ध महासंघ जनता तथा दुग्ध उत्पाद विक्रेताओं के हित में उचित फैसला नहीं ले लेता। दुग्ध महासंघ का घेराव किया जायेगा। रायपुर बंद करने चेम्बर का सहयोग लिया जायेगा।

बैठक में पार्लर संघ के प्रदेश अध्यक्ष शिव दत्ता (राकेश) ने कहा कि दुग्ध महासंघ द्वारा पार्लर पर बढ़ाए गए दबाव के कारण हमारे एक सदस्य को सपरिवार आत्मघाती कदम उठाना पड़ा। जिसके लिए सीधे तौर पर दुग्ध महासंघ की व्यवस्था जिम्मेदार है। हाल ही देवभोग दुग्ध पदार्थ विक्रेता द्वारा पत्नी और बच्चों के साथ आत्महत्या कर लिए जाने पर दुख व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए प्रार्थना की गई।

इस अवसर पर पार्लर संघ के पदाधिकारियों ने कहा कि हम देवभोग दुग्ध पदार्थ विक्रेताओं ने वर्षों तक मेहनत करके देवभोग ब्रांड को लोकप्रिय बनाया है। दुग्ध महासंघ के उत्पादों के विक्रय में पार्लर संघ अहम भूमिका निभाता है। लेकिन दुग्ध महासंघ के अधिकारी जो इस सहकारी उपक्रम को डुबो देने पर आमादा हैं, वह मनमर्जी चला रहे हैं और ऐसे फैसले ले रहे हैं जिससे जनता का विश्वास देवभोग ब्रांड से उठ रहा है और देवभोग के दुग्ध उत्पाद विक्रय करने वाले पार्लर आर्थिक रूप से टूट गए हैं।दुग्ध महासंघ के अधिकारियों के दबाव में आकर वह मौत को गले लगा रहे हैं।

देवभोग पार्लर संघ के प्रदेश अध्यक्ष शिव दत्ता (राकेश) ने बताया कि संघ की बैठक में लिए गए निर्णय से अवगत कराने के लिए दुग्ध महासंघ सिटी कार्यालय अधिकारियों से मिलने प्रतिनिधि मंडल गया था लेकिन पूर्व सूचना के बावजूद दुग्ध महासंघ के अधिकारी सिटी कार्यालय को एक कर्मचारी के हवाले करके लापता हो गए। उन्होंने कहा कि दुग्ध महासंघ के अधिकारियों की नादिरशाही के खिलाफ आंदोलन किया जाएगा। बैठक में प्रदेश महासचिव चंदन सिंह, रायपुर जिला अध्यक्ष योगेश साहू, प्रदेश कोषाध्यक्ष गोल्डी ठाकुर, प्रदेश उपाध्यक्ष विमल कुमार सहित अन्य पदाधिकारियों ने भी दुग्ध महासंघ के अधिकारियों की ज्यादती के खिलाफ आक्रोश व्यक्त किया। बैठक में सभी सदस्य उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button