छत्तीसगढ़

कैट के वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष निर्वाचित हुए अमर पारवानी

चुनाव अधिकारी सी.ए. निखिलेश ठक्कर ने सभी प्रत्याशियों के नामाकंन प्रमाण पत्रो की जांच कर और निर्वाचन की प्रक्रिया पूर्ण किया।

रायपुर। कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी, चेयरमेन मगेलाल मालू, अमर गिदवानी, प्रदेश अध्यक्ष जितेन्द्र दोशी, कार्यकारी अध्यक्ष विक्रम सिंहदेव, परमानन्द जैन, वाशु माखीजा, महामंत्री सुरिन्द्रर सिंह, कार्यकारी महामंत्री भरत जैन, कोषाध्यक्ष अजय अग्रवाल एवं मीडिया प्रभारी संजय चौबे ने बताया कि अखिल भारतीय स्तर पर कन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) का राष्ट्रीय अधिवेशन दिनांक 25 जून 2022 को नागपुर में आयोजित हुआ। जिसमें व्यापारिक मुद्दो के परिचर्चा के पश्चात् पदाधिकारियों का निर्वाचन प्रक्रिया प्रारंभ किया गया । पदाधिकारियो के निर्वाचन में पूरे भारतवर्ष से सभी राज्यों से पदाधिकारियों ने भाग लिया था। चुनाव अधिकारी सी.ए. निखिलेश ठक्कर ने सभी प्रत्याशियों के नामाकंन प्रमाण पत्रो की जांच कर और निर्वाचन की प्रक्रिया पूर्ण किया।

तत्पश्चात् नई टीम की घोषणा की गई, जिसमें अमर पारवानी वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष निर्वाचित हुए। नई टीम का कार्यकाल 2 वर्ष का होगा। उल्लेखनीय हैं कि अमर पारवानी द्वारा व्यापारी हित में किए जा रहे कार्यों की बदौलत लगातार उन्हें तीसरी बार कैट के राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शामिल किया गया है। इससे पहले वे लगातार दो बार कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद पर निर्वाचित हो चुके है। वर्ष 2018 में उन्हें पहली बार कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद की जिम्मेदारी दी गई थी, जिसके बाद लगातार छत्तीसगढ़ के व्यापारियों की मांग को वे दिल्ली में केंद्र सरकार तक पहुँचाते रहे। एक बार छत्तीसगढ़ को राष्ट्रीय स्तर अपनी मांग रखने का मंच मिलेगा।

इस बार पारवानी को वरिष्ठ उपाध्यक्ष पद की जिम्मेदारी मिली है। इससे छत्तीसगढ़ के व्यापारियों की ताकत और बढ़ चुकी है। पारवानी के वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष निर्वाचित होने पर कैट राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.सी.भरतीया एवं राष्ट्रीय महासचिव प्रवीण खण्डेलवाल ने उन्हे हार्दिक शुभकामनाये दी है और पूरे प्रदेश के सभी व्यापारिक संगठनों एवं कैट सी.जी. चैप्टर के सदस्य ने बधाई संदेश प्रेषित कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button