छत्तीसगढ़

22 मई को होगा संकल्प धर्म सभा, धर्म संसद आयोजक नीलकंठ त्रिपाठी फिर करवा रहे है भव्य संतो का समागम…..

इस बार धर्म संसद की जगह संकल्प धर्म सभा का आयोजन होगा।

AINS RAIPUR…धर्म संसद आयोजक नीलकंठ त्रिपाठी 22 मई 2022 को एक बार फिर से संतो का बड़ा कार्यक्रम कराने जा रहे है। इस बार धर्म संसद की जगह संकल्प धर्म सभा का आयोजन होगा।
ज्ञात हो कि विगत कुछ महीने पहले रायपुर में धर्म संसद का आयोजन किया गया था। जिसमे कालीचरण महराज के द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में अपशब्द टिप्पणी किया गया था। जिसके कारण कालीचरण महाराज को राजद्रोह की धारा लगाकर जेल भेज दिया गया था। बहुत मुश्किल के बाद 3 महीना जेल में रखने के बाद कालीचरण महराज को जमानत मिल पाई थी।

नीलकंठ त्रिपाठी ने बताया कि आज सचिदानंद उपासने की अध्यक्षता में सभी सनातनियो की बैठक रखी गई थी जिसमे कार्यक्रम की रूप रेखा और कार्यक्रम के बारे में चर्चाये हुए। सनातन धर्म को लेकर हम इस बार भी संकल्प धर्म सभा का आयोजन कर रहे है जिसमे पूर्व के भाती संतो द्वारा हिन्दुओ को सनातन धर्म के बारे में दिशा निर्देश दिया जाएगा। सनातन धर्म के विषय मे चर्चा की जाएगी।

कालीचरण महराज के विषय मे पूछने पर त्रिपाठी ने बताया कि संकल्प धर्म सभा में मुख्य रूप से राज्य के संतों को बुलाया जाएगा इसमे कालीचरण महाराज या फिर छत्तीसगढ़ के बाहर के कौन कौन से संतो को बुलाना है यह समिति द्वारा तय किया जाएगा।

आज की बैठक में सुरेश्वर महादेव पीठ के संस्थापक स्वामी राजेश्वरनंद, शंकर लाल दानवानी राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राष्ट्रीय सिंधी एकता संघ, दीपक साहू, प्रदेश अध्यक्ष हिन्दू महासभा,रेखा शर्मा, शुरभि शर्मा, जगदीश प्रसाद तिवारी,आशीष बाजपई,राजू महराज, सोम्या, जे.पी. तिवारी,प्रीतम साहू, उमेश तिवारी,दीपाली चौधरी ,अभय तिवारी आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button