राजनीति

छत्तीसगढ़ में मिशन 2023 की शुरुआत, तीसरे विकल्प के रूप में पेश होगी आप

आम आदमी पार्टी ने भी संगठन को मजबूत करने की दिशा में काम करना शुरू कर दिया है।

AINS CHHATTISGARH…छत्तीसगढ़ में मिशन 2023 की शुरुआत हो गई है। एक तरफ जहां सीएम भूपेश बघेल बारी-बारी से राज्य की सभी विधानसभा सीटों का दौरा कर रहे हैं। तो दूसरी तरफ भाजपा के केंद्रीय मंत्रियों की टीम भी प्रदेश में पहुंच रही है। इस बीच आम आदमी पार्टी ने भी संगठन को मजबूत करने की दिशा में काम करना शुरू कर दिया है। राज्य की सभी 90 विधानसभा सीटों में कार्यकर्ता सम्मेलन के बाद आप अब हर गांव में 20-20 लोगों को जोड़ने का प्लान बना रही है।

छत्तीसगढ़ आम आदमी पार्टी के विश्वस्त सूत्रों ने बताया कि आप नेताओं ने 2023 के विधानसभा चुनाव में सभी सीटों पर लड़ने का एलान किया है। पार्टी ने कई विधानसभा सम्मेलन किए थे उसके बहाने पार्टी का विस्तार हुआ। अब गांव-गांव तक संगठन को पहुंचाने की तैयारी है। इसके लिए प्रत्येक विधानसभा में टीमें बनाई गई हैं। यह टीम 25 मई से 25 जून तक मोहल्लों में जाकर जनसंवाद करेगी और लोगों को पार्टी से जोड़ेगी।

तीसरे विकल्प के रूप में पेश होगी आप

सूत्र ने बताया कि जब से छत्तीसगढ़ राज्य का गठन हुआ है, इसके बाद से प्रदेश में चुनावी मुकाबले दो तरफा ही रहे हैं। आम आदमी पार्टी इसे बदलने में जुट गई है। पंजाब के विधानसभा चुनाव में मिली जीत के बाद सभी बड़े पार्टी नेताओं का छत्तीसगढ़ का दौरा तेजी से शुरू हो गया है। इस दौरान उन्होंने एलान भी कर दिया है कि पार्टी यहां सभी 90 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़ा करेगी। इसी को देखते हुए पार्टी नेता संगठन विस्तार करने में अपना फोकस कर रहे हैं। पार्टी की रणनीति इस बात पर आधारित है कि राज्य के लोग कांग्रेस और भाजपा से ऊब चुके हैं, उन्हें तीसरे विकल्प की तलाश है और आम आदमी पार्टी यह कमी पूरी करेगी।

इन नेताओं ने संभाला मोर्चा

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में भले ही डेढ़ साल का वक्त बचा है। लेकिन आप ने भाजपा और कांग्रेस की तर्ज पर तेजी से तैयारी करनी शुरू कर दी है। आप के नेता बारी-बारी से राज्य का दौरा कर रह जमीनी नब्ज टटोल रहे हैं। अब तक के प्रदेश प्रभारी संजीव झा, राज्यसभा सांसद संदीप पाठक, दिल्ली सरकार के कैबिनेट मंत्री गोपाल राय, दिल्ली विधानसभा की उपाध्यक्ष राखी बिड़लान छत्तीसगढ़ दौरे पर आ चुकी हैं। इस दौरान बड़े नेताओं ने राजधानी रायपुर और बिलासपुर क्षेत्रों में रैली व सभाएं की थीं। आप नेताओं ने इस दौरान भूपेश बघेल सरकार पर जमकर हमला बोला था। आप नेताओं ने कहा कि प्रदेश में 15 साल डॉ. रमन सिंह की सरकार रही। अभी कांग्रेस पार्टी की भूपेश बघेल सरकार है। दोनों ही पार्टियों ने जनता से छल किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button