राष्ट्रीय

बिहार-एमपी में बारिश का अलर्ट, जानें दिल्ली में कब से होगी Monsoon की बारिश

जानें यूपी-बिहार-झारखंड सहित अन्‍य राज्यों के मौसम का हाल

Weather Forecast Today Updates: देश के कई राज्यों में मॉनसून की बारिश जारी है. IMD की मानें तो दक्षिण-पश्चिमी हवा के प्रभाव से अगले दो दिनों में पश्चिम बंगाल और सिक्किम में भारी बारिश होने का अनुमान है. जानें यूपी-बिहार-झारखंड सहित अन्‍य राज्यों के मौसम का हाल

उत्तराखंड में भारी बारिश का अलर्ट

IMD ने 29 जून तक उत्तराखंड में भारी बारिश के लिए ‘येलो’ अलर्ट जारी किया है. निदेशक IMD बिक्रम सिंह के अनुसार, कुमाऊं मंडल के बागेश्वर और पिथौरागढ़ सहित क्षेत्रों में आज भारी बारिश की संभावना है. 27 जून के बाद बारिश का दायरा बढ़ेगा और नैनीताल के आसपास के इलाकों की ओर बढ़ेगा.

असम में बाढ़ की स्‍थिति

असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, 27 जिलों में बाढ़ प्रभावित लोगों की संख्या अब घटकर 25.10 लाख रह गयी है, जबकि शुक्रवार तक 28 जिलों में यह आंकड़ा 33.03 लाख था.

छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में बारिश

मौसम विभाग ने छत्तीसगढ़ के दक्षिण के जिलों में भारी बारिश की संभावना व्‍यक्‍त की है. वहीं मध्य प्रदेश के करीब 12 जिलों में बारिश के साथ बिजली गिरने की आशंका विभाग ने जताई है.

यूपी में अधिकतम तापमान 38 डिग्री रहने की संभावना

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में रविवार, 26 जून 2022 को न्यूनतम तापमान 28 डिग्री और अधिकतम तापमान 38 डिग्री रहने की संभावना है.

प्री-मॉनसून की वजह से बारिश की गतिविधियां तेज

देश के कई राज्यों में मॉनसून और प्री-मॉनसून की वजह से बारिश की गतिविधियां देखने को मिल रही हैं. दिल्ली के लोग भी मॉनसून का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं.

दिल्ली में बादल छाए रहने और बूंदाबांदी के आसार

दिल्ली में शनिवार को अधिकतम तापमान 40.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से तीन डिग्री अधिक है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम 24.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. आईएमडी के बुलेटिन के अनुसार 27 जून से बादल छाए रहने और बूंदाबांदी होने जबकि 27 जून से तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश होने का अनुमान है.

उत्तरी बंगाल में तीन जिलों के निचले इलाके भारी बारिश

पश्चिम बंगाल के उत्तरी हिस्से के तीन जिलों के निचले इलाके पिछले कुछ दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश के कारण जलमग्न हो गए हैं. प्रभावित जिलों में जलपाईगुड़ी, अलीपुरद्वार और कूचबिहार शामिल है. भारत मौसम विज्ञान विभाग ने अलीपुरद्वार और कूचबिहार में अगले पांच दिनों के दौरान भारी बारिश का अनुमान जताया है, जबकि अन्य जिलों में अगले दो दिनों में गरज के साथ छीटें पड़ने तथा भारी बारिश की संभावना जतायी है.

राजस्थान के कई जिलों में अगले हफ्ते फिर बदल सकता है मौसम

राजस्थान में मानसून पूर्व बारिश का दौर फिलहाल थम गया है और बीते 24 घंटे में राज्य में कहीं भी पानी नहीं बरसा. हालांकि, मौसम विभाग का कहना है कि अगले हफ्ते उदयपुर और कोटा संभाग में एक बार फिर बादल बरस सकते हैं. स्थानीय मौसम केंद्र के अनुसार, बीते 24 घंटे में राजस्थान में कहीं भी बारिश नहीं हुई, जिससे राज्य में अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गई.

उत्तर बिहार के कई जिलों में अलर्ट जारी

26 जून को बिहार के कटिहार और पूर्णिया, 27 जून को किशनगंज, पूर्णिया और कटिहार जबकि 28 जून को पूर्वी और पश्चिमी चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर, मधुबनी, सुपौल, मधेपुरा, अररिया, किशनगंज, पूर्णिया और कटिहार जिलों में एक दो जगहों पर भारी बारिश हो सकती है. मौसम विभाग के अनुसार दक्षिणी उत्तर प्रदेश के साथ साथ झारखंड व उसके आसपास चक्रवातीय परिसंचरण की स्थिति होने से राज्य के अलग अलग भागों में बारिश का सिस्टम सक्रिय है.

झारखंड में बारिश की कमी

रांची मौसम विज्ञान केंद्र के प्रभारी अभिषेक आनंद ने कहा कि झारखंड में मानसून के देरी से आने के कारण बारिश की कमी दिख रही है. मौसमी बरसात की मात्रा एक जून से गिनी जाती है जबकि मानसून राज्य में 18 जून को आया था. यह कमी जून में जारी रह सकती है लेकिन जुलाई में स्थिति में सुधार होगा.

यूपी में 27 जून के बाद मॉनसून के सक्रिय होने की उम्मीद

आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक जेपी गुप्ता के अनुसार, वेस्टर्न डिस्टर्बेंस की वजह से बादलों की आवाजाही जारी रहेगी. इस दौरान उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में आंधी के साथ बारिश देखने को मिल सकती है. उनका कहना है कि, 27 जून के बाद मानसून के पूरी तरह से सक्रिय होने का अनुमान है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button