राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री ने ‘हथकरघा स्टार्टअप ग्रैंड चैलेंज’ में हिस्सा लेने देशवासियों से किया आग्रह

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को राष्ट्रीय हथकरघा दिवस (National Handloom Day) के अवसर पर भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और भारत की कलात्मक परंपराओं का जश्न मनाने के लिए काम करने वाले सभी लोगों को शुभकामनाएं दी. ट्वीट कर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि “राष्ट्रीय हथकरघा दिवस पर, भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विविधता और हमारी कलात्मक परंपराओं का जश्न मनाने के लिए काम करने वाले सभी लोगों को शुभकामनाएं

केंद्रीय कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल के एक अन्य ट्वीट को रिट्वीट कर पीएम मोदी ने कहा कि “बुनकरों के लिए विचार और नवाचार करने का एक शानदार अवसर. स्टार्टअप की दुनिया से जुड़े उन सभी युवाओं से भाग लेने का आग्रह”.

‘हथकरघा स्टार्टअप ग्रैंड चैलेंज’ (Handloom Startup Grand Challenge) के लिए आवेदन करने के लिए लिंक साझा करते हुए, गोयल ने ट्वीट किया, “हथकरघा स्टार्टअप ग्रैंड चैलेंज. हमारे हथकरघा बुनकरों के लिए कम कठिन परिश्रम के साथ बेहतर गुणवत्ता वाले उत्पादों के लिए तकनीकी रूप से उन्नत हथकरघा विकसित करने के लिए लागत प्रभावी समाधान खोजने का सुनहरा अवसर।”केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी राष्ट्रीय हथकरघा दिवस पर लोगों को शुभकामनाएं दी

शाह ने कहा, “भारत का हथकरघा क्षेत्र हमारी समृद्ध और विविध सांस्कृतिक विरासत का प्रतीक है. 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उसी दिन 1905 में शुरू हुए स्वदेशी आंदोलन को मनाने और इस प्राचीन भारतीय कला को पुनर्जीवित करने के लिए 7 अगस्त को राष्ट्रीय हथकरघा दिवस के रूप में घोषित किया”.

“इसका उद्देश्य देशवासियों को स्वदेशी बुनकरों द्वारा बुने गए हथकरघा उत्पादों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करना है. इस 8वें राष्ट्रीय हथकरघा दिवस पर, आइए हम अपनी हथकरघा विरासत को संरक्षित और बढ़ावा देने और अपने हथकरघा बुनकरों, विशेष रूप से महिलाओं को सशक्त बनाने के संकल्प को आगे बढ़ाने के लिए हाथ मिलाएं”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button