छत्तीसगढ़

सरगुजा अपर कलेक्टर भड़की शिक्षक पर , व्याख्याता संघ ने खोला मोर्चा

घटना का वीडियो वायरल होने के बाद छत्तीसगढ़  व्याख्याता संघ ने अपर कलेक्टर के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है

AINS DESK…सरगुजा जिले के नर्मदापुर में स्वामी आत्मानंद स्कूल में प्रवेश के लिए काउंसलिंग कार्यक्रम रखा गया था। इसमें बच्चों को लॉटरी सिस्टम से स्कूल में प्रवेश देना था, क्योंकि सीटें कम हैं और प्रवेश के इच्छुक बच्चों के आवेदनों की संख्या ज्यादा है। अपर कलेक्टर इस कार्यक्रम में प्रभारी बनकर आई थीं। वायरल वीडियो में अपर कलेक्टर कह रही हैं कि यहां सब गलत-गलत हो रहा है। मैं सब कैंसल कर दूंगी। आपको कुछ होश नहीं है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कार्यक्रम में सब कुछ चल ही रहा था, लेकिन अपर कलेक्टर बच्चों के नाम पढ़ रहे शिक्षक पर अचानक भड़क गईं। शिक्षक एक ही बच्चे का नाम बार-बार पढ़ रहा था। इससे खफा होकर पहले तो सलाम ने अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल किया और फिर कहने लगीं कि हम यहां डबल-डबल नाम पढ़ रहे हैं, आपको होश ही नहीं है। यहां सब गलत हो रहा है। मैं सब कैंसिल कर दूंगी। इसके लिए आप जिम्मेदार होंगे, आपने कोई  होमवर्क नहीं किया। मुझे लिस्ट दीजिए, जिसमें आपने गरीबी रेखा से नीचे और ऊपर के बच्चों के नाम अलग किए हैं? छात्र-छात्राओं के नामों की अलग अलग सूची कहा हैं? इसके बाद वह अपशब्द कहते हुए शिक्षकों को फरमाती हैं कि तुम गारंटी लो कि जो नाम ले रहे हो, वो सही हैं, तब मैं उनका सत्यापन करूंगी, अन्यथा सब कैंसिल कर दूंगी।

माफी मांगने की मांग
घटना का वीडियो वायरल होने के बाद छत्तीसगढ़  व्याख्याता संघ ने अपर कलेक्टर के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। संघ के प्रदेश अध्यक्ष राकेश शर्मा ने कहा है कि शिक्षक राष्ट्रनिर्माता होते हैं, लेकिन उनके साथ अधिकारियों का व्यवहार घटिया है। अपर कलेक्टर को उक्त शिक्षक से माफी मांगना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button