छत्तीसगढ़

इन राज्यों में हो सकती है भारी बारिश, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

गुजरात तट से कर्नाटक तट तक एक ट्रफ रेखा बनी हुई है। पिछले 24 घंटों के दौरान, तटीय कर्नाटक और अरुणाचल प्रदेश, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, पूर्वी उत्तर प्रदेश और दक्षिण-पश्चिम मध्य प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई।

दिल्ली: चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पूर्वी झारखंड और इससे सटे ओडिशा के उत्तरी हिस्से पर बना हुआ है। एक अन्य चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र महाराष्ट्र तट से दूर पूर्वी मध्य अरब सागर के ऊपर बना हुआ है। गुजरात तट से कर्नाटक तट तक एक ट्रफ रेखा बनी हुई है। पिछले 24 घंटों के दौरान, तटीय कर्नाटक और अरुणाचल प्रदेश, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, पूर्वी उत्तर प्रदेश और दक्षिण-पश्चिम मध्य प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई।

केरल, लक्षद्वीप, कोंकण और गोवा, मध्य महाराष्ट्र, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक, गुजरात के कुछ हिस्सों, गंगीय पश्चिम बंगाल, असम, छत्तीसगढ़ और झारखंड में हल्की से मध्यम बारिश हुई। शेष पूर्वोत्तर भारत, बिहार के पूर्वी हिस्सों, ओडिशा, आंध्र प्रदेश के उत्तरी तट, तेलंगाना और तमिलनाडु में कुछ स्थानों पर हल्की बारिश और उत्तरी पंजाब में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश हुई।

अगले 24 घंटों के दौरान, तटीय कर्नाटक, कोंकण और गोवा, अंडमान और निकोबार द्वीप के कुछ हिस्सों, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, अरुणाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़, विदर्भ और मराठवाड़ा और मध्य महाराष्ट्र में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कहीं-कहीं भारी बारिश संभव है।

बाकी पूर्वोत्तर भारत, गंगीय पश्चिम बंगाल, आंतरिक ओडिशा, केरल, लक्षद्वीप, झारखंड के कुछ हिस्सों, पूर्वी बिहार और दक्षिण गुजरात में हल्की से मध्यम बारिश संभव है। दक्षिण मध्य प्रदेश और उत्तरी छत्तीसगढ़ में अलग-अलग जगहों पर हल्की बारिश संभव है। पश्चिमी हिमालय की पहाड़ियों सहित उत्तर पश्चिमी भारत का मौसम शुष्क रहेगा। उत्तर पश्चिमी भारत और मध्य भारत के कुछ हिस्सों के तापमान में और वृद्धि हो सकती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button