राष्ट्रीय

Amarnath Yatra: अमरनाथ में बादल फटने से 16 लोगों की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

विधायक के अनुसार, कल दर्शन के लिए अमरनाथ गुफा में हजारों की संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे. 'पहाड़ियों से पानी बह रहा था और कुछ तंबुओं में भर गया.

नई दिल्ली: तेलंगाना के बीजेपी विधायक टी राजा सिंह परिवार समेत अमरनाथ यात्रा पर गए हैं. वे शुक्रवार की शाम अचानक बादल फटने की घटना में बाल-बाल बचे हैं. राजा सिंह और उनके परिवार के सदस्य एक हेलिकॉप्टर से अमरनाथ पहुंचे थे. बता दें कि अमरनाथ में बादल फटने की घटना में अब तक 16 लोगों की मौत हो गई है. जबकि 45 से ज्यादा घायल हैं. इसके अलावा, 48 लोगों के लापता होने की खबर है. सेना की टीमें लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी हैं. न्यूज एजेंसी PTI के मुताबिक, विधायक राजा सिंह ने आपबीती सुनाई. उन्होंने बताया कि शुक्रवार को मौसम बिगड़ने से पहले उन्होंने परिवार समेत पहाड़ियों से उतरने के लिए पोनीज (ponies) का इस्तेमाल किया.

राजा सिंह का कहना था कि हमने महसूस किया कि मौसम अचानक बदल गया और बिगड़ गया है. ऐसे में हेलिकॉप्टर सेवा भी रद्द कर दी जाएगी, इसलिए हमने पोनीज का उपयोग करके पहाड़ियों पर उतरने का फैसला किया. उन्होंने कहा- मैंने पहाड़ियों से करीब एक किलोमीटर नीचे बादल फटते देखा. कई तंबू बाढ़ में बह गए. चूंकि विधायक विशेष सुरक्षा में हैं, इसलिए सेना ने परिवार को श्रीनगर पहुंचाने में मदद की. उन्होंने आगे कहा कि तेलंगाना समेत अन्य राज्यों के लोग वहां फंसे हुए हैं

विधायक के अनुसार, कल दर्शन के लिए अमरनाथ गुफा में हजारों की संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे. ‘पहाड़ियों से पानी बह रहा था और कुछ तंबुओं में भर गया. मेरा अनुमान है कि बाढ़ में कम से कम 50 लोग बह गए. अमरनाथ गुफा में सेना बहुत अच्छा काम कर रही थी. लेकिन, वे इस तरह की परिस्थितियों में असहाय थे और अंधेरा भी था.’ शुक्रवार को एक अधिकारी ने बताया कि करीब 40 लोग लापता हैं जबकि पांच को बचा लिया गया है. प्रशासन के एक अधिकारी ने कहा कि 30 जून से अमरनाथ यात्रा शुरू हुई. प्राकृतिक आपदा के बाद स्थगित कर दिया गया है और बचाव अभियान खत्म होने के बाद इसे फिर से शुरू करने पर फैसला किया जाएगा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button